Saubhagya Scheme: Saubhagya Yojana in Hindi

नमस्ते दोस्तों आज हम Saubhagya Scheme: Saubhagya Yojana in Hindi के बारे में बात करने वाले हैं, तो दोस्तों हम आपके लिए  Saubhagya Yojana in hindi पोस्ट लाए हैं, चले सौभाग्य स्‍कीम योजना जानते हैं आपको बहुत सारी नॉलेज देगी, हमारी HindiYouth.com वेबसाइट का एक ही मकसद है कि हिंदुस्तान के युवाओं को सही जानकारी मिल सके.

Saubhagya Scheme: Saubhagya Yojana in Hindi

Saubhagya Scheme: Saubhagya Yojana in Hindi
Saubhagya Scheme: Saubhagya Yojana in Hindi

Saubhagya Yojana in Hindi

सौभाग्य स्‍कीम योजना : प्रधान मंत्री सहज बिजली हर घर Yojana – सौभाग्य देश में सार्वभौमिक घरेलू विद्युतीकरण प्राप्त करने के लिए ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के सभी शेष गैर-विद्युतीकृत परिवारों को अंतिम मील कनेक्टिविटी और बिजली कनेक्शन से सभी तक ऊर्जा पहुंच प्रदान करना है।

Saubhagya Yojana जोकि हालही में शुरू की गई है. सरकार ने प्रत्येक घर में बिजली को उपलब्ध कराने के अपने सपने को साकार करने के लिए सहज बिजली हर घर Yojana का शुभारंभ किया है. इस Yojana के अंतर्गत ट्रांसफ़ॉर्मर, मीटर, तारों तथा बिजली से सम्बंधित उपकरणों के लिए सब्सिडी उपलब्ध कराई जायेगी.

इस Yojana के अनुसार बिजली की उपलब्धता को पूरा करने का लक्ष्य 2019 तक रखा गया है. केन्द्रीय ऊर्जा सचिव ए. के. भल्ला के अनुसार केंद्र देश के हर घर में बिजली को पहुँचाने के लिए कटिबद्ध है. देश भर में लगभग 73.38% घरों में बिजली का कनेक्शन है.

Saubhagya Yojana का उद्देश्य :

Saubhagya Yojana in Hindi: 2015 में प्रधानमंत्री ने वैसे 18,000 से अधिक गांवों में 1000 दिनों के अंतर्गत बिजली उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा था, जिस गांव में बिजली की उपलब्धता नहीं थी. इसके लिए सरकार ने गावों में विधुतीकरण भी किया और लगभग 10,000 घरों को बिजली ग्रिड से जोड़ा.

विधुतीकरण के कार्य में तेजी लाने के लिए सरकार ने नागरिकों को 24 घंटे की बिजली उपलब्ध कराने के सपने को साकार करने के लिए सहज बिजली हर घर Yojana की शुरुआत की है. इस Yojana का प्रमुख मकसद ग्रामीण परिवार और शहरी परिवारों को हर वक्त बिजली की कनेक्टिविटी को प्रदान करना है | सौभाग्य स्‍कीम योजना

प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर Yojana की मुख्य विशेषताएं

  • 25 सितम्बर 2017 को भारत के प्रधानमंत्री द्वारा इस Yojana की शुरुआत की गयी |
  • 25 सितंबर को पंडित दीन दयाल उपाध्याय के जन्म शताब्दी समारोह के अवसर पर यह Yojana शुरू की गई है।
  • Yojana का उद्देश्य पूरे देश में प्रत्येक घर को बिजली कनेक्शन प्रदान करके 201 9 तक सभी के लिए 24×7 शक्ति हासिल करना है।
  • Yojana ट्रांसफॉर्मर, तारों और मीटर जैसे उपकरणों पर सब्सिडी प्रदान करेगी।
  • विद्युत मंत्रालय इस Yojana का कार्यान्वयन प्राधिकारी होगा।
  • बिजली कनेक्शन देश के ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों में प्रदान किया जाएगा।

लाभ : Saubhagya Yojana

Saubhagya Scheme: Saubhagya Yojana
Saubhagya Scheme: Saubhagya Yojana

Saubhagya Yojana in Hindi: इस Yojana की संभावित लागत 16320 करोड़ रुपए होगी।

फिलहाल इस Yojana के लिये 12 हजार 320 करोड़ रुपए का बजटीय आवंटन किया गया है।

Saubhagya Yojana के लिए केंद्र सरकार से 60% अनुदान राज्यों को मिलेगा, जबकि राज्य अपने कोष से 10% धन खर्च करेंगे और शेष 30% राशि बैंकों से बतौर ऋण लेनी होगी।

विशेष राज्यों के लिए केंद्र सरकार Yojana का 85% अनुदान देगी, जबकि राज्यों को अपने पास से केवल 5% धन लगाना होगा और शेष 10% बैंकों से कर्ज़ लेना होगा।

ऐसे सभी चार करोड़ निर्धन परिवारों को बिजली कनेक्शन दिये जाएंगे, जिनके पास अभी कनेक्शन नहीं हैं।

इस Yojana का लाभ गाँव के साथ-साथ शहर के लोगों को भी मिलेगा।

ये मुफ्त बिजली कनेक्शन गरीब परिवारों को 2018 तक प्रदान किये जाएंगे।

केन्द्र सरकार द्वारा बैटरी सहित 200 से 300 वाट क्षमता का सोलर पावर पैक दिया जाएगा, जिसमें हर घर को 5 एलईडी बल्ब, एक पंखा भी शामिल है।

बिजली के इन उपकरणों की देख-रेख 5 सालों तक सरकार अपने खर्च पर करवाएगी।

बिजली कनेक्शन के लिये 2011 की सामाजिक, आर्थिक और जातीय जनगणना को आधार माना जाएगा।

जो लोग इस जनगणना में शामिल नहीं हैं, उन्हें 500 रुपए में कनेक्शन दिया जाएगा और इसे 10 किश्तों में वसूला जाएगा।

सभी घरों को बिजली पहुँचाने के लिये प्री-पेड मॉडल अपनाया जाएगा।

यह Yojana फिलहाल बिहार, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, ओडिशा, झारखंड, जम्मू-कश्मीर, पूर्वोत्तर राज्यों और राजस्थान में लागू की गई है।

लोगों को बिजली कनेक्शन के लिये चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे, उन्हें घर पर ही मुफ्त बिजली कनेक्शन प्रदान किये जाएंगे।

READ: Stand Up India Scheme Yojana in Hindi

Saubhagya Yojana का कार्यान्वयन :

Saubhagya Yojana in Hindi: Yojana के आसान और त्वरित कार्यान्वयन के लिए, मोबाइल ऐप का उपयोग कर घरेलू सर्वेक्षण के लिए आधुनिक तकनीक का उपयोग किया जाएगा। लाभार्थियों की पहचान की जाएगी और आवेदक तस्वीर और पहचान प्रमाण के साथ बिजली कनेक्शन के लिए उनके आवेदन को स्थान पर पंजीकृत किया जाएगा।

ग्रामीण इलाकों में ग्राम पंचायत / लोक संस्थानों को पूर्ण दस्तावेज के साथ आवेदन पत्र जमा करने, बिल वितरित करने और पंचायत राज संस्थानों और शहरी स्थानीय निकायों के परामर्श से राजस्व एकत्र करने के लिए अधिकृत किया जा सकता है। ग्रामीण विद्युतीकरण निगम लिमिटेड (आरईसी) पूरे देश में इस Yojana के संचालन के लिए नोडल एजेंसी रहेगी।

जीवन की गुणवत्ता : Saubhagya Yojana

Saubhagya Yojana बिजली के उपयोग से दैनिक घर के कामकाज और मानव विकास के सभी पहलुओं में लोगों के जीवन की गुणवत्ता पर निश्चित रूप से सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। सबसे पहले, बिजली तक पहुंच प्रकाश उद्देश्यों के लिए केरोसिन के उपयोग को प्रतिस्थापित करेगी जिसके परिणामस्वरूप इनडोर प्रदूषण में कमी आएगी।

इनडोर प्रदूषण में कमी से लोगों को स्वास्थ्य के खतरों से बचाया जाएगा। इसके अलावा, बिजली के उपयोग देश के सभी हिस्सों में कुशल और आधुनिक स्वास्थ्य सेवाओं की स्थापना में मदद करेंगे। सूर्यास्त के बाद प्रकाश भी विशेष रूप से महिलाओं के लिए बढ़ी हुई व्यक्तिगत सुरक्षा की भावना प्रदान करता है और पोस्ट सूर्यास्त सामाजिक और आर्थिक गतिविधियों में वृद्धि करता है।

बिजली की उपलब्धता सभी क्षेत्रों में शिक्षा सेवाओं को बढ़ावा देगी और गुणवत्ता प्रकाश व्यवस्था पोस्ट सूर्यास्त बच्चों को अध्ययन पर अधिक समय बिताने और भावी करियर में आगे बढ़ने में मदद करेगा। घरेलू विद्युतीकरण भी संभावित हुड बढ़ाता है कि महिलाएं अध्ययन और आय अर्जित करेंगी। Saubhagya Yojana in Hindi

Saubhagya Yojana विशेषता :

Saubhagya Yojana in Hindi: यह Yojana दिसम्बर से कार्य रूप में आ जायेगी इसको प्रभावी बनाने के लिए केंद्र ने राज्यों से कुछ परियोजनाओं को तैयार करने के लिए कहा है, इसके तहत एक राज्य दूसरे राज्य को विधुतीकरण कार्य में सहायता करेंगे. इस तरह से केन्द्रीय और राज्य सरकार विधायी मुद्दों को हल करने के लिए पूरी कोशिश कर रहे है.

इस Yojana के तहत गरीब और शहरी, ग्रामीण परिवारों को बिजली से सम्बंधित संयंत्र खरीदने के लिए सब्सिडी प्रदान की जाएगी. वैसे तो इस Yojana का लाभ हर एक परिवार को मिलेगा चाहे वो किसी भी क्षेत्र में रहता हो, लेकिन इसका सबसे ज्यादा लाभ ग्रामीण निवासियों को होगा.

प्रधानमंत्री का डिजिटल इण्डिया वाला विजन या सोच इस Yojana से धरातल पर कार्य करता हुआ प्रतीत होगा, क्योंकि बिजली कनेक्शन की उपलब्धता से बहुत सारी टेक्नोलॉजी या प्रौधोगिकी का दूरदराज के इलाकों में प्रवेश होगा और ग्रामीण इलाकों में भी उद्योग कार्य में बढ़ोतरी होगी.

इस Yojana से 100% तक बिजली की पहुँच सभी राज्यों तक उपलब्ध कराने की सोच रखी गयी है. बिजली के उत्पादन के लिए सरकार पारंपरिक तरीकों के अलावा सौर उर्जा और पवन उर्जा से भी बिजली का उत्पादन करेगी. इन दोनों बिजली उत्पादन प्रक्रिया से लगभग 20,000 मेगावाट बिजली उत्पादित होने की संभावना को व्यक्त किया गया है.

सरकार स्वच्छ बिजली के उत्पादन पर जोर देगी. थर्मल पॉवर पलांट बनाये जायेंगे जिससे बिजली का संतुलित उत्पादन किया जायेगा. इस Yojana में 17,000 करोड़ रूपये तक खर्च होने का अनुमान लगाया गया है.

READ: Pradhan Mantri Awas Yojana Hindi 2020

सहज बिजली हर घर Saubhagya Yojana के लिए योग्यता :

Saubhagya Yojana in Hindi: हालही में इस Yojana की घोषणा की गयी है इसलिए पात्रता और पंजीकरण संबंधी ब्यौरा अभी जारी नहीं किया गया है, लेकिन ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि केवल इस Yojana के तहत उन लोगों को लाभ मिलेगा जो ग्रामीण इलाकों में रहते है. जोकि गरीब, बीपीएल और अन्य पिछड़े वर्ग से आते है, उन्हें इस Yojana के अंतर्गत प्राथमिकता दी जाएगी.

हालही में इस Yojana की घोषणा की गयी है इसलिए पात्रता और पंजीकरण संबंधी ब्यौरा अभी जारी नहीं किया गया है, लेकिन ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि केवल इस Yojana के तहत उन लोगों को लाभ मिलेगा जो ग्रामीण इलाकों में रहते है. जोकि गरीब, बीपीएल और अन्य पिछड़े वर्ग से आते है, उन्हें इस Yojana के अंतर्गत प्राथमिकता दी जाएगी.

ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि अन्य योजनाओं के सामान ही इस Yojana के पंजीकरण में लगने वाले आवश्यक दस्तावेज जैसे कि आवासीय, पहचान पत्र, आय प्रमाण पत्र और अन्य सम्बंधित दस्तावेज़ इन सब की आवश्यकता पड़ सकती है.

इस तरह से इस Yojana के क्रियान्वयन के साथ, केन्द्रीय सरकार उन लोगों को बिजली देने में समर्थ है जिनके पास अब तक बिजली की पहुँच नहीं है, वे लोग आसानी से पावर कनेक्शन प्राप्त कर पाएंगे.

Yojana से जुड़े दस्तावेज : Saubhagya Scheme

Saubhagya Scheme का लाभ लेने के लिए लोगों को नीचे बताए गए डॉक्यूमेंट की जरुरत पड़ेगी और इन डॉक्यूमेंट के नाम इस प्रकार हैं-

  • आधार संख्या,
  • मोबाइल नंबर,
  • बैंक खाता,
  • ड्राइविंग लाइसेंस,
  • मतदाता पहचान पत्र इत्यादि जैसे दस्तावेज.

Yojana से जुड़ा वेब पोर्टल (Web Portal) : Saubhagya Yojana in Hindi:

Saubhagya Yojana in Hindi: इस Scheme पर निगरानी रखने के लिए, इस Scheme की प्रोग्रेस की जानकारी हासिल करने के लिए और Scheme के लिए खुद का रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए एक वेब पोर्टल Visit Saubhayga Yojana Sites भी बनाया गया है और इस पोर्टल को 16 नवंबर 2017 लॉन्च किया गया था.

इस वेब पोर्टल की मदद से कोई भी व्यक्ति बिजली कनेक्शन लेने के लिए अपना नाम रजिस्ट्रेशन करवा सकता है और समय समय पर इस वेब पोर्टल पर जाकर ये भी इनफार्मेशन प्राप्त कर सकता है कि उसको कब तक बिजली दी जाएगी.

वेब पोर्टल के जरिए रजिस्ट्रेशन करवाने की प्रक्रिया (Registration):

Saubhagya Scheme : आपको ऊपर बताए गए लिंक यानी http://saubhagya.gov.in/ पर जाना होगा और इस लिंक के सबसे ऊपर राइट साइड में आपको गेस्ट का ऑप्शन दिखेगा और उस ऑप्शन पर आपको जाना होगा. इस पेज पर जाते ही आपको एक फॉर्म फील (fill) करने के लिए कहा जाएगा और आपको उस फॉर्म को फील करना होगा जिसके बाद आपका रजिस्ट्रेशन हो जाएगा.

छह राज्यों में चलाए जाएंगे ट्रेनिंग के प्रोग्राम (Training Programme) :

Saubhagya Scheme के तहत नए ट्रेनिंग प्रोग्राम को भी लॉन्च किया गया है, जिनका मकसद इलेक्ट्रिसिटी को बूस्ट करने से जुड़ा हुआ है.

इन नए स्किल डेवलपमेंट ट्रेनिंग प्रोग्राम को केंद्रीय मंत्री आर के सिंह द्वारा लॉन्च किया गया है और इन नए प्रोग्राम को छह स्टेट में चलाया जाएगा.

जिनके स्टेट में इन नए प्रोग्राम को चलाया जाएगा उन स्टेट के नाम इस प्रकार हैं बिहार, झारखंड, मध्य प्रदेश, उड़ीसा, उत्तर प्रदेश और असम.

इन नए स्किल डेवलपमेंट प्रोग्राम के तहत तैयार किए गए टार्गेट को अचीव करने के लिए बिजली, स्किल डेवलपमेंट और उद्यमिता क्षेत्र से जुड़े मंत्रालय मिलकर काम करेंगे.

दरअसल इस Scheme (सौभ्यग) के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए प्रशिक्षित व्यक्तियों की कमी हो रही थी. लेकिन अब कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय इस कमी को दूर करने के लिए अपनी मदद प्रदान करेगा और ऊपर बताए गए राज्यों को प्रशिक्षित व्यक्ति मुहैया करवाएंगे. Saubhagya Scheme

READ: Pradhan Mantri Jan Aushadhi Kendra Yojana Hindi 2020

उत्तर प्रदेश राज्य में हुई प्रीपेड मीटर की शुरुआत (UP, UPPCL launches pre-paid energy meters):

Saubhagya Scheme के तहत उत्तर प्रदेश बिजली निगम सीमित ने अपने राज्य के एक करोड़ घरों में मीटर लगाने की तैयारी पूरी कर ली है और जल्द ही एक करोड़ मीटर इस राज्य में लगा दिए जाएंगे.

उत्तर प्रदेश पावर कॉरपोरेशन लिमिटेड (यूपीपीसीएल) ने प्रीपेड ऊर्जा मीटर भी लॉन्च किए हैं. इन मीटर को पहले रिचार्ज करवाना होगा और इनको रिचार्ज करवाने के लिए न्यूनतम राशि 50 रुपए रखी गई है.

प्रीपेड मीटरों की मदद से समय पर बिजली का भुगतान हो सकेगा. साथ ही इन मीटरों की रीडिंग और बिलिंग जैसे कार्य को करने के लिए किसी भी प्रकार के मैन्युअल एलिमेंट की जरूरत नहीं पड़ेगी.

Saubhagya Scheme अतिरिक्त क्षमता :

Saubhagya Scheme : देश में अब कोयले की कमी नहीं है और बिजली उत्पादन में अतिरिक्त क्षमता के माध्यम से लक्ष्य से भी अधिक प्राप्त किया गया है।

नवीकरणीय ऊर्जा की स्थापित क्षमता में वृद्धि कर इसके लिये 2022 तक 175 गीगावाट का लक्ष्य रखा गया है।

नवीकरणीय ऊर्जा के पावर टैरिफ में भारी कमी आई है।

ट्रांसमिशन लाइनों में भी वृद्धि हुई है।

उदय Yojana ने बिजली वितरण कंपनियों के नुकसान को कम किया है।

उजाला Yojana के तहत दिये जाने वाले एलईडी बल्ब की लागत में काफी कमी आई है।

अब तक हासिल किया गया लक्ष्य (Target Achived)

प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर Saubhagya Scheme की तय सीमा अगले साल तक खत्म होने वाली है और इस समय तक सरकार ने 59,82,386 घरों को एलेक्ट्रिफिएड कर दिया है, जबकि 3,20,45,929 घरों को एलेक्ट्रिफिएड किया जा रहा है.

किन राज्यों में कितना हासिल किया गया लक्ष्य

नीचे कुछ राज्यों के नाम बता रखे हैं जिनमें निर्धारित किए के लक्ष्यों में से कुछ टारेगट को हासिल कर लिया गया है.

राज्य का नाम टारगेट कितना हासिल हुआ टारेगट

  • उत्तर प्रदेश 1,57,16,547 16,00,113
  • बिहार 40,75,380 8,60,855
  • उड़ीसा 35,33,344 2,00,932
  • झारखंड 32,21,861 2,53,493
  • असम 26,27,074 2,44,798
  • मध्य प्रदेश 23,05,138 14,03,001

ये Scheme पूरे भारत में सफलतापूर्वक चल रही है और आनेवाले टाइम में भारत के हर घर को रोशन करने का जो ख्वाब मोदी जी ने देखा है उसको जल्द पूरा कर लिया जाएगा.

अतिरिक्त सुचना

Saubhagya Scheme के अंतर्गत 1 करोड़ इलेक्ट्रिसिटी की फिटिंग का लक्ष्य पूरा करने के लिए उत्तर प्रदेश कोरपोरेशन लिमिटेड (UPCCL) तैयार हैं जिससे कि हर परिवार चाहे वो ग्रामीण हो या शहरी परिवार सभी को इलेक्ट्रिसिटी मिल सकेगी.

“प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना” का उद्देश्य देश के हर घर तक बिजली पहुँचाना हैं. इसका लक्ष्य लाइन डेफिसिट को कम करना और पॉवर कट के रिस्क को कम करना हैं. सरकार ने इसके लिए कुल 1375 करोड़ का खर्चा निश्चित किया है. यूपीसीसीएल ने प्रीपेड मीटर इंस्टाल कर रखे हैं, इन प्रीपेड मीटर्स को रिचार्ज करने के लिए कम से कम 50 रूपये की राशि लगेगी.

इस सर्विस को उपलब्ध करवाने के लिए पहचान पत्र जैसे आधार कार्ड,वोटर कार्ड, इत्यादि देने जरुरी होंगे. यह सुविधा भ्रष्टाचार को कम करने में मदद करेगी क्योंकि इसमें मीटर रीडिंग,बिलिंग और बिल रीकंस्ट्रक्शन के लिए कोई मैन्युअल एलिमेंट नहीं होगा.

WACH VIDEOS:

Conclusion:

तो दोस्तों अगर आपको हमारी Saubhagya Scheme: Saubhagya Yojana in Hindi यह पोस्ट पसंद आई है तो इसको अपने दोस्तों के साथ FACEBOOK पर SHARE कीजिए और WHATSAPP पर भी SHARE कीजिए और आपको ऐसे ही POST और जानकारी चाहिए तो हमें कमेंट में आप लिख कर बता सकते हैं उसके ऊपर हम आपको अलग से एक पोस्ट लिखकर दे देंगे दोस्तों.

HI HINDIYOUTH.COM AAP KO JOBS, ONLINE EARNING, EDUCATION, BUSINESS, INVESTMENT, CAREER TIPS GUIDE DETA HE. HINDI ME TAKI AAP KI THORISI HELP HO SAKE, ME CHAHTA HU KI INDIA KE YUVA KO SAHI KNOWLEDGE MIL SAKE JO UNKE KAAM KA HO.

Leave a Comment

0 Shares
Share
Tweet
Pin
Share